Friendship

यही तो शुरवात है अनजान होने की
आज आप busy हो जाओ
कल हम खों जाएंगे

बस यादें रेह जाएंगी
फिर number भी बदल जाएंगे
और दोस्ती मै हम
Out of reach हो जाएंगे

बस यही तो शुरवात है
आज बाते ख़तम होने की
रूठे अब तो फिर ना मनानेकी
हम बुलाएं और आप ना आनेकी

है यहीं शुरुवात
रिश्तों के टूटने की
दोस्ती अपनी कहीं खोने की
और मिलकर भी न मिलने की

यहीं तो शुरुवात है।।

-Yks

Advertisements

एक आंसु

एक वो आसु हैं जो आज भी
पलकों से गुफ्तगू करते हैं
हर पल ठहरते है
और तेरी ही बातें करते हैं

इंतजार जो तेरा होता
तो ये कुछ यादें दे जाते हैं
कभी तेरे दिदार को तरसते हैं
तो कभी रुठ कर चले जाते हैं

गालों तक जब वोह आये
तुम्हारे ही होंठों को ढुंढते हैं
पुराने पन्नों में देखते हैं
खुदको भुल जाते हैं

ये आसु जो तुम्हारे इंतजार में
खुद को भुल जाते हैं
मेरा साथ छोडते हैं
और मिठ्ठी में मिल जाते हैं ..!!
-योगेश खजानदार

चलो बच्चो को बच्चे रहने देते हैं।।

image

image

चलो बच्चो को बच्चे रहने देते है!!
अनाथ बच्चों को अपना केहते है
कहीं मिले भूके पेठ तो
उसे खाना देते है

हर कली को खिलने देते है
लड़का और लड़की मै
फरक करना छोड़ देते है
हर बच्चे को पढ़ने देते है
बाल मजदूरी से विवश बच्चे का
आधार बनते हैं

चलो बच्चो को बच्चे रहने देते है!!!

जात पात धर्म से उन्हें
आगे रहने देते है
बुरी सोच से परे रहने देते है
सिख ऐसी हो उन्हें की
देश का उज्ज्वल भविष्य लिखने देते है

चलो बच्चो को बच्चे ही रहने देते है!!

खेलते दौड़ते जिंदगी का मजा लेने देते है
नादान होकर अपने आप को भूलने देते है
सभी रंगोसे प्यार करने देते है
जिंदगी दिल खोलकर जिने देते है

हा चलो बच्चो को बच्चे रहने देते है!!!

बुरी नजर से उन्हें दूर रहने देते है
सही और ग़लत का फैसला करने देते है
सभी महापुरषों का सम्मान करने देते है
हा वो बच्चे है उन्हें बच्चे ही रहने देते है

जिंदगी मै फिरसे लौटकर नहीं आता बचपन
इसीलिए चलो बच्चो को बच्चे ही रहने देते हैं !!!
-योगेश खजानदार

image

image